इन्डियाॅज़ डाॅटर कैम्पेन के अन्र्तगत विद्यास्थली कन्नार हाईस्कूल में सामुदायिक बैठक का आयोजन

दिनांक 6 अप्रैल, 2018 को इन्डियाॅज़ डाॅटर कैम्पेन के अन्र्तगत विद्यास्थली कन्नार हाईस्कूल में सामुदायिक बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में आमन्त्रित अभिभावकों से भारत की बेटियाॅः अनचाही, असमान और अवांछित विषय पर चर्चा की गयी। चर्चा के दौरान विद्यास्थली कनार हाईस्कूल के छात्र एवं छात्राओ ने नाटक का प्रस्तुतिकरण किया। साथ ही अभिभावको को महिलाओं पर होने वाली हिंसाओं के लिए उनके ब्लाक, उनके गावॅ और उनके जिले की स्थिति से अवगत कराया गया। अभिभावकों का आंकड़ों पर यकीन कर पाना आसान नही था, पर उन्ही के ब्लाक के कुछ साक्ष्य उदाहरणो को उनके सामने प्रस्तुत किया गये।

जब पीड़ित लोगों ने स्वंय का अनुभव साझा किया जब वहां उपस्थित लोगों ने सोचना शुरू किया और बदलाव के लिए, बच्चियो की मदद के लिए और घर में सहयोग के लिए शपथ ली कि ’’हम किसी का बाल विवाह नही होने देगे। साथ ही अब उनके अधिकारो का भी हनन नहीं होने देगे।’’

शपथ के दौरान एक अभिभावक ने कहा ’’हम अपने पोती की जल्दी शादी नहीं करेगे और सम्पत्ति में भी हिस्सा देंगे।’’

गोपाल ने कहा कि ’’मेरी शादी 20 साल की उम्र मे हुई थी। मैने और मेरी पत्नी ने बहुत दिक्कत सही, पर आज हम सबके सामने कहते है कि हम अपने बच्चो को तब तक पढायेगे जब तक वह पढना चाहेगे। गोपाल ने कहा कि मै अपने दोनो बच्चों को जितना भी होगा पर बराबर का हिस्सा दूगा।’’

शायिस्ता जी ने कहा कि ’’मैने अपने जीवन में बहुत कुछ सहा है, पिता के न होने पर निकाह जल्दी हो जाना और शिक्षा के लिए संघर्ष किया। शादी के बाद मुझे अपने पति का सहयोग मिला मैने पढाई और कर भी रही हूॅ। आज यहाॅ पर पहली बार हम अपनी बात को रखने की हिम्मत कर पाये है।’’

◄ Back to India’s Daughters Campaign 2018

Comments are closed.